सीएसआईआर-सीएमईआरआई ऑक्सीजन संवर्धन इकाई (CSIR-CMERI Oxygen Enrichment Unit) : डेली करेंट अफेयर्स

सीएसआईआर-सीएमईआरआई ऑक्सीजन संवर्धन इकाई (CSIR-CMERI Oxygen Enrichment Unit)

चर्चा में क्यों?

  • हाल ही में सीएसआईआर-सीएमईआरआई(CSIR-CMERI) ने स्वदेशी ऑक्सीजन संवर्धन इकाई (Oxygen Enrichment Unit) विकसित की है।

सीएसआईआर-सीएमईआरआई ऑक्सीजन संवर्धन इकाई (CSIR-CMERI Oxygen Enrichment Unit)

  • सीएसआईआर-सीएमईआरआई(CSIR-CMERI) की ऑक्सीजन संवर्धन इकाई(Oxygen Enrichment Unit) एक उपकरण है, जो आस-पास की हवा से ऑक्सीजन को इकट्ठा करता है और ऑक्सीजन-समृद्ध हवा की आपूर्ति के लिए उसमें से नाइट्रोजन को हटाता है। एकत्र की गई ऑक्सीजन को ऑक्‍सीजन मास्क या नाक में लगाए जाने वाले केनूला के जरिये उन रोगियों को दी जाती है, जिन्‍हें श्‍वास संबंधी बीमारियां हैं।
  • सीएसआईआर-सीएमईआरआई की स्वदेश में विकसित ऑक्सीजन संवर्धन इकाई प्रेशर स्विंग ऐड्सॉर्प्शन (Pressure Swing Adsorption -PSA) और जियोलाइट कॉलम(Zeolite Columns) के सिद्धांत पर काम करती है, ताकि प्रेशर के द्वारा वातावरण की हवा से नाइट्रोजन को हटाया जा सके, जिससे ऑक्सीज़न जमा होने में वृद्धि होती है।

लाभ

  • इस उपकरण को सुदूरवर्ती स्थानों, घरों या अस्पताल में ऐसे रोगियों के लिए इस्‍तेमाल किया जा सकता है, जो क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (सीओपीडी), क्रोनिक हाइपॉक्‍सेमिया और पल्मोनरी एडिमा से पीडि़त हैं। इसका इस्‍तेमाल निंद्रा संबंधी गंभीर विकार-स्लीप एपनिया(severe sleep apnea) के इलाज के लिए भी किया जा सकता है।
  • यह सुविधा हाई फ्लो ऑक्सीजन थेरेपी में मदद करेगी, जो कि कोविड-19 रोगियों के उपचार और प्रबंधन में एक बेहतर विधि साबित हुई है। इस प्रकार सीएसआईआर-सीएमईआरआई ऑक्सीजन संवर्धन इकाई (CSIR-CMERI Oxygen Enrichment Unit) कोविड-19 के रोगियों के इलाज के लिए अधिक प्रभावी और महत्वपूर्ण हो सकती है।
  • सीएसआईआर-सीएमईआरआई विकसित ऑक्सीजन संवर्धन इकाई घरों, अस्पतालों, विशेष रूप से उच्च ऊंचाई वाले इलाकों और दूरदराज के स्थानीय इलाकों में रक्षा बलों के लिए बहुत उपयोगी हो सकती है। क्योंकि व्यावसायिक रूप से उपलब्ध ऑक्सीजन संवर्धन इकाइयाँ आमतौर पर समुद्र तल से 8000 फुट तक काम करती हैं। लेकिन सीएसआईआर-सीएमईआरआई ऑक्सीजन संवर्धन इकाई 14000 फुट की ऊंचाई तक काम कर सकती है, जिससे आकस्मिक स्थिति में अधिक ऊंचाई वाले युद्धक्षेत्र के उपयोग के लिए यह बहुत आसान हो जाता है।
  • यह इकाई ऑक्सीजन सिलेंडर और वेंटिलेटर की मांग को कम करने में मदद कर सकती है और वायु प्रदूषण में वृद्धि के कारण इसकी मांग बहुत तेजी से बढ़ने वाली है क्योंकि यह इष्टतम स्वस्थ वातावरण के लिए ऑक्सीजन का उचित स्तर बनाए रखने के लिए भी उपयोगी है।

सेंट्रल मैकेनिकल इंजीनियरिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट

  • सेंट्रल मैकेनिकल इंजीनियरिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट(Central Mechanical Engineering Research Institute- CMERI) को सीएसआईआर-सीएमईआरआई(CSIR-CMERI) दुर्गापुर के नाम से भी जाना जाता है।
  • यह इंस्टीट्यूट भारतीय वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR) की एक प्रयोगशाला है, जो दुर्गापुर, पश्चिम बंगाल में स्थित हैं। इस प्रकार यह एक सार्वजनिक इंजीनियरिंग अनुसंधान और विकास संस्थान है।
  • यह संस्थान भारत में मैकेनिकल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर का अनुसंधान संस्थान है।
  • इसकी स्थापना वर्ष 1958 में हुई थी। यह विशेष रूप से भारतीय उद्योगों की मदद करने के लिए राष्ट्रीय मैकेनिकल इंजीनियरिंग प्रौद्योगिकी विकसित करने के लिए स्थापित किया गया था।

वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR)

  • वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR) का सबसे बड़ा अनुसंधान एवं विकास संगठन है।
  • यह एक स्वायत्त संस्था है तथा भारत के प्रधानमंत्री इसके अध्यक्ष हैं ।
  • वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR) की स्थापना वर्ष 1942 में हुई और इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है।