यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (विषय: तटीय रडार नेटवर्क (Coastal Radar Network)

यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए करेंट अफेयर्स ब्रेन बूस्टर (Current Affairs Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


विषय (Topic): तटीय रडार नेटवर्क (Coastal Radar Network)

तटीय रडार नेटवर्क (Coastal Radar Network)

चर्चा का कारण

  • हाल ही में भारत द्वारा कोस्टल रडार चेन नेटवर्क को सागरों में उच्च खतरे के समय समयोचित निगरानी को सक्षम बनाने तथा हिंद महासागर के तटीय राज्यों में क्षमता निर्माण के उद्देश्य से विस्तार किया जा रहा है।

पृष्ठभूमि

  • मॉरीशस, सेशेल्स और श्रीलंका को इस नेटवर्क के साथ जोड़ा जा चुका है, जबकि मालदीव और म्यांमार को जोड़ने की योजना है।
  • हालाँकि मालदीव में तटीय राडार स्टेशनों में से दो पिछले साल क्रियान्वित थे और तीसरे स्टेशन पर काम चल रहा था जो कि इस साल के शुरुआत में पूरा हो गया था।
  • इसके अलावा बांग्लादेश और थाईलैंड के साथ इस पर चर्चा चल रही है। इसके लिए कुछ और देशों के साथ भी इसी तरह के प्रस्ताव रखे जा रहे हैं।

योजना का क्रियान्वयन

  • समुद्री यातायात के संबंध में सूचना के आदान-प्रदान के लिये नौसेना को, 36 देशों और 3 बहुपक्षीय संगठनों के साथ व्हाइट शिपिंग समझौतों पर निर्णय के लिये सरकार द्वारा अधिकृत किया गया है।
  • अब तक 22 देशों और एक बहुपक्षीय संगठन के साथ समझौते संपन्न हुए हैं।
  • इनमें से 17 समझौतों और एक बहुपक्षीय संगठन का संचालन किया जा चुका है।
  • तटीय राडार शृंखला नेटवर्क के चरण-I के तहत, देश के समुद्र तट पर 46 तटीय राडार स्टेशन स्थापित किए गए हैं। वर्तमान में चल रहे परियोजना के दूसरे चरण के तहत 38 स्थिर रडार स्टेशन और चार मोबाइल रडार स्टेशन तटरक्षक द्वारा स्थापित किए जा रहे हैं और अब शीघ्र ही समाप्त होने वाला है।

उद्देश्य

  • हिंद महासागर में समुद्री डोमेन जागरूकता को बेहतर बनाने के लिए इन देशों के साथ श्वेत शिपिंग या वाणिज्यिक शिपिंग पर सूचना का आदान-प्रदान किया जाएगा।
  • हालाँकि समुद्री क्षेत्र में जागरूकता को बढ़ावा देने वाले ‘हिंद महासागर क्षेत्र’ हेतु सूचना संलयन केंद्र (Information Fusion Centre for Indian Ocean Region IFCIOR) में शीघ्र ही तीन अन्य अंतर्राष्ट्रीय संपर्क अधिकारियों (International Liaison Officers - ILO) के शामिल होने की उम्मीद है। फ्रांस, जापान और अमेरिका के अंतर्राष्ट्रीय संपर्क अधिकारी IFC-IOR में पहले ही शामिल हो चुके हैं।

क्या है ‘हिंद महासागर क्षेत्र हेतु सूचना संलयन केंद्र’ (IFC-IOR)घ्

  • IFC-IOR को समुद्री सुरक्षा की स्थिति को मजबूत करने और क्षेत्र के लिए एक समुद्री सूचना केंद्र के रूप में काम करने की दृष्टि से स्थापित किया गया था।
  • IFC को भारतीय नौसेना द्वारा दिसंबर 2018 को हरियाणा के गुरुग्राम में नौसेना के सूचना प्रबंधन और विश्लेषण केंद्र (IMAC) में स्थापित किया गया है, जो लगभग 7,500 किलोमीटर की तटीय रेखा के निर्बाध वास्तविक समय की तस्वीर बनाने के लिए सभी तटीय रडार शृंखलाओं को जोड़ने वाला एकल बिंदु केंद्र है।
  • भारतीय नौसेना का सूचना प्रबंधन और विश्लेषण केंद्र (IMAC) गुरुग्राम में स्थित है, जिसे 26/11 मुंबई आतंकवादी हमलों के बाद समुद्री डेटा संलयन के लिए नोडल एजेंसी बनाया गया था।